बेवफाई की सजा मौत से || Bewafai Ki Saza Maut Se Jyada Ho Lyrics in Hindi/English ||

Summary : Bewafai Ki Saza Maut Se Ziyada Ho Song Woh Bewafa Album से हैं। इस गाने को गाया है Agam Kumar Nigam, Music दिया है Nikhil और गाने के बोल लिखे हैं Praveen Bhardwaj ने। 

About : Bewafai Ki Saza Maut Se Jyada Ho song

  • Song Title : Bewafai Ki Saza Maut Se Ziyada Ho
  • Movie : Woh Bewafa (2008)
  • Singer : Agam Kumar Nigam
  • Music : NikhilLyricist : Praveen Bhardwaj
  • Music Label : T-Series

Bewafai Ki Saza Maut Se Ziyada Ho Song Lyrics Hindi

bewafai ki saza maut se ziyada ho lyrics hindi

बेवफाई की सजा मौत से ज्यादा हो
बेवफाई की सजा मौत से ज्यादा हो
बेवफाओं को रब ना छोड़े
जैसे तूने मेरा दिल तोड़ा
वैसे कोई तेरा भी दिल तोड़े
बेवफाई की सजा मौत से ज्यादा हो..

जिसने दिये है इन आँखो को आंसू
जिसने लूटा मेरे दिल का चैन
वो भी रोये मेरे लिये रातो में
वो भी रहे अब सारा दिन बैचेन

जिसने दिखाये मुझको लाखो सपने
जिसने तोड़ा वो सपनों का घर
वो भी मुझे याद करे सपनो में
मेरी तरह वो भी रहे बेघर

अब तुझे दर्द हो तो दर्द से ज्यादा हो
अब तुझे दर्द हो तो दर्द से ज्यादा हो
बेवफाओं को रब ना छोड़े
जैसे तूने मेरा दिल तोड़ा
वैसे कोई तेरा भी दिल तोड़े
बेवफाई की सजा मौत से ज्यादा हो..

जिसने किया है मुझको इतना तन्हा
जिसने दिये है इतने सारे गम
वो जब थक कर ढूंढ़े साथ किसी का
याद करे वो मुझको आँखे नम

जिसने भुलाये वो चाहत के वादे
जिसने मिटाया मेरे दिल से नाम
टूटे वादों की तरह वो टूटे
वो भी एक दिन हो जाये बेनाम

अब तुझे जख्म हो तो जख्म से ज्यादा हो
अब तुझे जख्म हो तो जख्म से ज्यादा हो

बेवफाओं को रब ना छोड़े
जैसे तूने मेरा दिल तोड़ा
वैसे कोई तेरा भी दिल तोड़े
जैसे तूने मेरा दिल तोड़ा
वैसे कोई तेरा भी दिल तोड़े..

Bewafai Ki Saza Maut Se Jyada Ho Song Lyrics English

Bewafai Ki Saza Maut Se Ziyada Ho
Bewafai Ki Saza Maut Se Ziyada Ho
Bewafaon Ko Rab Na Chode

Jaise Tune Mera Dil Toda
Waise Koi Tera Bhi Dil  Tode
Jaise Tune Mera Dil Toda
Waise Koi Tera Bhi Dil Thode
Bewafai Ki Saza Maut Se Ziyada Ho..

Jisne Diye Hai In Aankho Ko Aansoo
Jisne Loota Mere Dil Ka Chain
Wo Bhi Roye Mere Liye Raaton Mein
Wo Bhi Rahe Ab Sara Din Bechain

Jisne Dikhaye Mujhe Ko Lakho Sapne
Jisne Toda Wo Sapnon Ka Ghar
Wo Bhi Mujhko Yaad Kare Sapno Mein
Meri Tarah Wo Bhi Rahe Be Ghar

Ab Tujhe Dard Ho To Dard Se Jada Ho
Ab Tujhe Dard Ho To Dard Se Jada Ho

Bewafaon Ko Rab Na Chode
Jaise Tune Mera Dil Toda
Waise Koi Tera Bhi Dil Tode
Jaise Tune Mera Dil Toda
Waise Koi Tera Bhi Dil Tode
Bewafai Ki Saza Maut Se Ziyada Ho..

Jisne Kiya Hai Mujhko Itna Tanha
Jisne Diye Hai Itne Sare Gum
Wo Jab Thak Kar Dhunde Sath Kisi Ka
Yaad Kare Wo Mujhko Aankhe Naam

Jisne Bhulaye Wo Chahat Ke Waade
Jisne Mitaya Mera Dil Se Naam
Toote Waadon Ki Tarah Wo Toote
Vo Bhi Ek Din Ho Jaye Be Naam

Ab Tujhe Zakhm Ho To
Zakhm Se Jyada Ho
Ab Tujhe Zakhm Ho To
Zakhm Se Jyada Ho

Bewafaon Ko Rab Na Chhode
Jaise Tune Mera Dil Toda
Waise Koi Tera Dil Bhi Tode
Jaise Tune Mera Dil Toda
Waise Koi Tera Dil Bhi Tode..

close