हम बेवफा हरगिज ना थे || Hum Bewafa Hargiz Na The Lyrics in Hindi English || Woh Bewafa ||

About : Hum Bewafa Hargiz Na The Song

  • Song Title : Hum Bewafa Hargiz Na The
  • Album : Woh Bewafa (2009)
  • Singer : Tulsi Kumar
  • Music : Nikhil
  • Lyricist : Praveen Bhardwaj
  • Music Label : T-Series

Hum Bewafa Hargiz Na The Song Lyrics in Hindi –

hum bewafa hargiz na the song lyrics in hindi english

हम तुम मिले कोई मुश्किल ना थी
पर इस सफर की मंजिल ना थी
ये सोच के दूर तुम से हुये
ये सोच के दूर तुम से हुये
हम बेवफा हरगिज ना थे
हम बेवफा हरगिज ना थे
हम बेवफा हरगिज ना थे
हम बेवफा हरगिज ना थे

हम तुम मिले कोई मुश्किल ना थी
पर इस सफर की मंजिल ना थी
ये सोच के दूर तुम से हुये
ये सोच के दूर तुम से हुये
हम बेवफा हरगिज ना थे
हम बेवफा हरगिज ना थे
हम बेवफा हरगिज ना थे
हम बेवफा हरगिज ना थे..

कुछ वक्त मुश्किल था
उलझन में ये दिल था
इस डर से लौटे कदम
पर अब भी यादो में
ख्वाबों खयालो में
रहते हो तुम ही सनम
रोते हैं रातो में
खोते हैं ख्वाबो में
टूटे हैं बेबस है हम
तुमसे हसीं कोई महिफल ना थी
पर इस सफर की मंजिल ना थी
ये सोच के दूर तुम से हुये
ये सोच के दूर तुम से हुये
हम बेवफा हरगिज ना थे
हम बेवफा हरगिज ना थे
हम तुम मिले कोई मुश्किल..

सौ दर्द रह रह कर सिने में
उठते हैं जब से हुये तुम खफा
दिल रोज कहता हैं तुम को बता दें 
कि क्यू हम हुये बेवफा
तुम माफ कर दोगे जब तुम सुनोगे
ये हमसे हुयी क्यूं खता
कोई खुशी हमको हासिल ना थी
पर इस सफर की मंजिल ना थी
ये सोच के दूर तुम से हुये
ये सोच के दूर तुम से हुये
हम बेवफा हरगिज ना थे
हम बेवफा हरगिज ना थे

हम तुम मिले कोई मुश्किल ना थी
पर इस सफर की मंजिल ना थी
ये सोच के दूर तुम से हुये
ये सोच के दूर तुम से हुये
हम बेवफा हरगिज ना थे
हम बेवफा हरगिज ना थे
हम बेवफा हरगिज ना थे
हम बेवफा हरगिज ना थे..

Hum Bewafa Hargiz Na The Song Lyrics in English –

Hum tum mile koi mushkil na thi
Par iss safar ki manzil na thi
Ye soch ke dur tum se huye
Ye soch ke dur tum se huye
Hum bewafa hargiz na the
Hum bewafa hargiz na the
Hum bewafa hargiz na the
Hum bewafa hargiz na the

Hum tum mile koi mushkil na thi
Par iss safar ki manzil na thi
Ye soch ke dur tum se huye
Ye soch ke dur tum se huye
Hum bewafa hargiz na the
Hum bewafa hargiz na the
Hum bewafa hargiz na the
Hum bewafa hargiz na the
Hum tum mile koi mushkil..

Kuch waqt mushkil tha 
Uljhan me yeh dil tha 
Iss dard se lute kadam
Per ab bhi yaado mein 
Khwabon khayalon mein 
Rehte ho tum hi sanam
Rote hai raaton mein 
Khote hai khwaabon mein
Tute hai bebus hai hum
Tum se hasi koi mehfil na thi
Per iss safar ki manzil na thi

Ye soch ke dur tum se huye,
Ye soch ke dur tum se huye
Hum bewafa hargiz na the ,
Hum bewafa hargiz na the
Hum tum mile koi mushkil..

Sou dard rah rah kar sine me
Uth-te hai jab se huye tum khafa
Dil roj kehta hai tum ko bata de 
Ke kyun hum huye bewafa
Tum maaf kar donge jab tum sunoge
Ye hum se huyi kyun khata
Koi khusi hum ko hashil na thi
Per iss safar ki manzil na thi

Ye soch ke dur tum se huye
Ye soch ke dur tum se huye
Hum bewafa hargiz na the
Hum bewafa hargiz na the

Hum tum mile koi mushkil na thi
Par iss safar ki manzil na thi
Ye soch ke dur tumse huye
Ye soch ke dur tumse huye
Hum bewafa hargiz na the
Hum bewafa hargiz na the
Hum bewafa hargiz na the
Hum bewafa hargiz na the..

close