Thursday, October 6, 2022
HomeNew SongsKhudaya Re Lyrics In Hindi English || खुदाया रे ||

Khudaya Re Lyrics In Hindi English || खुदाया रे ||

Khudaya Re Lyrics In Hindi English

Summary : Khudaya Re Song Song Mere Desh Ki Dharti Movie का Song है। इस गाने में Divyenndu और Anupriya Goenka मुख्य भूमिका में है। इस गाने को Ali Aslam Shah ने गाया है।और Music Vikram Montrose ने दिया है। इस गाने के बोल Azeem Shirazi ने लिखे है।

About : Khudaya Re Song

  • Song Title : Khudaya Re
  • Album : Mere Desh Ki Dharti (2022)
  • Singer : Ali Aslam Shah
  • Music  : Vikram Montrose
  • Lyrics : Azeem Shirazi
  • Director : Faraz Haider
  • Cast : Divyenndu, Anupriya Goenka
  • Label : Sony Music India

Khudaya Re (Official Video)

Khudaya Re Lyrics In Hindi

मुखदा
मैं खुद को तोड़ बैठा हूं
मुझे खुद से जोड़ दे ये रब्बी
मैं रास्ता भूल बैठा हूं
कोई तो मोड दे या रब्बी
पग पग है अंधेरी गलियां रे
कोई तारा से चमका दे
हर सपना गिर गिर टूटा रे
रब जीना से सिखला दे

खुदा रे …..
खुदा रे …..

इतने सीतम ना कर जिंदगी
हम कहां बार बार आएंगे
नादान है जरा हम अभी
जीने दे वर्ना मार आयेंगे

ख़्वाबों की ज़मीन है बंजारे
हर बात लगे है खंजरी
अब थोड़ा सा मरहम तो लगा दे

उम्मीदेन चोर बैठा हूं
मुझे हिम्मत और दे या रब्बी
मैं तेरा नादान बंदा हूं
गिर जाऊं तो थाम ले या रबी

पग पग है अंधेरी गलियां रे
कोई तारा से चमका दे
हर सपना गिर गिर टूटा रे
रब जीना से सिखला दे

खुदा रे …..
खुदा रे …..

मां बाप की खुशी के लिए
सोचा था कुछ कर जाएंगे
न था पता सब तराही है
ख्वाब सारे बिखर जाएंगे

जल थाल ये दोनो नैना,
कभी आंसूं पोच्छ हंसा दे,
थोड़ा हाथ बढ़ा दे जिंदगी….

गम सारे ओढ़ बैठा हूं
अब खुशियां भेज दे ये रबो
सब धागे तो बैठा हूं
नई एक दोर दे या रबी

पग पग है अंधेरी गलियां रे
कोई तारा से चमका दे
हर सपना गिर गिर टूटा रे
रब जीना से सिखला दे

खुदा रे …..
खुदा रे …..
कर करम कर करम या रब्बी

More Song Lyrics

Khudaya Re Lyrics In English

Mukhda
Main khud ko tod baitha hoon
Mujhe khudse Jod de ya rab
Main rasta bhool baitha hoon
Koi to mod de ya rab
Pag pag hain andheri galiyan re
Koi taara to chamka de
Har sapna gir gir toota re
Rab jeena to sikhlaa de

Khudaya re…..
Khudaya re…..

Itne sitam na kar zindagi
Ham kahan baar baar ayenge
Nadaan hain Zaraa ham abhi
Jeene de warna mar ayenge

Khwaabon ki zameen hai banjar
Har baat lage hai khanjar
Ab thoda sa marham to laga de

Ummeeden chor baitha hoon
Mujhe himmat aur de ya rab
Main tera naadan banda hoon
Gir jaoon to thaam le ya rab

Pag pag hain andheri galiyan re
Koi taara to chamka de
Har sapna gir gir toota re
Rab jeena to sikhlaa de

Khudaya Re…..
Khudaya Re…..

Maa baap ki Khushiyon ke liye
Socha tha kuch kar jayenge
Na tha pata sab is tarah
Khwab saare bikhar jayenge

Jal thal ye dono naina,
Kabhi aanssooon pochh hansa de,
Thoda haath badhaa de zindagi….

Gam saare odh baitha hoon
Ab Khushiyan bhej de ya rab
Sab dhaage tod baitha hoon
Nayi Ek dor de ya rab

Pag pag hain andheri galiyan re
Koi taara to chamka de
Har sapna gir gir toota re
Rab jeena to sikhlaa de

Khudaya Re…..
Khudaya Re…..
Kar Karam kar Karam ya rab

More Song Lyrics

RELATED ARTICLES

Most Popular

close